Home समाचार कैशलेस कारोबार पर अब लगेगा कम कर

कैशलेस कारोबार पर अब लगेगा कम कर

532
SHARE

नोटबंदी के बाद कैशलेस कारोबार को बढ़ावा देने के लिए सरकार कई कदम उठा रही है। इसी क्रम में छोटे कारोबारियों को राहत देते हुए वित्त मंत्री अरुण जेटली ने ऐलान किया कि डिजिटल पेमेंट से सालाना दो करोड़ रुपए टर्नओवर पर टैक्स से राहत मिलेगी।

उन्होंने कहा कि दो करोड़ रुपए तक का कारोबार करने वाले व्यापारी अगर डिजिटल पेमेंट स्वीकार करते हैं तो उन्हें कम कर देना होगा। उन्होंने कहा कि दो करोड़ के सालाना टर्नओवर वाले कारोबारियों को अब आठ की बजाय छह प्रतिशत टैक्स देना होगा।

वित्त मंत्री ने यह भी कहा कि 2016-17 के लिए दो करोड़ रुपए तक के टर्नओवर वाले कारोबारी, जिनके पास सही खाते नहीं हैं, उनके बारे में मान लिया गया कि उन्होंने कर के लिहाज से आठ प्रतिशत लाभ कमाया। लेकिन अगर वे डिजिटल पेमेंट अपनाएंगे तो उनकी आय आठ प्रतिशत के बजाय छह प्रतिशत मानी जाएगी।

वित्त मंत्री ने कहा कि नोटबंदी के बाद से डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए भी कई कदम उठाए गए हैं। कैशलेस ट्रांजेक्शन के साथ डेबिट और क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल भी बढ़ा है। लोग ई-वॉलेट को अपनाने लगे हैं।

केंद्रीय प्रत्यक्ष कर बोर्ड ने कहा कि यह फैसला कैश के कम इस्तेमाल के लक्ष्य को हासिल करने और कैशलेस ट्रांजेक्शन वाले छोटे कारोबारियों को बढ़ावा देने के लिए किया गया है।

 

LEAVE A REPLY