Home नरेंद्र मोदी विशेष 370 हटने के बाद बकरीद मनेगी यादगार, जश्न में डूबने को सारा...

370 हटने के बाद बकरीद मनेगी यादगार, जश्न में डूबने को सारा जम्मू-कश्मीर है तैयार

171
SHARE

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में मौजूदा सरकार के अथक प्रयासों से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद जम्मू-कश्मीर में नई बहार आती दिख रही है। सोमवार 12 अगस्त को मनाए जाने वाले ईद-उल-जुहा यानि बकरीद के त्योहार को लेकर चहल-पहल लगातार बढ़ती जा रही है। बकरीद की इस रौनक के साथ ही समूचा जम्मू-कश्मीर शांति और सद्भावना के एक नए अध्याय को शुरू करता हुआ नजर आ रहा है।

जश्न में सरकार का सहयोग- जम्मू-कश्मीर में एहतियातन अभी सुरक्षा बलों की तैनाती बनी हुई है, लेकिन आम लोग रोजमर्रा की अपनी जरूरतें पूरी कर सकें, इसकी उन्हें पूरी छूट दी जा रही है। जम्मू से धारा-144 हटाए जाने के बाद शनिवार से इलाके में खासी हलचल देखी जाने लगी है और सड़कों पर यातायात भी सामान्य नजर आ रहा है। सोमवार को बकरीद का त्योहार लोग शांतिपूर्ण माहौल में मना सकें, इसके लिए प्रशासन की ओर से तमाम जरूरी बंदोबस्त किए गए हैं। जश्न में कोई कमी ना रह जाए, इसलिए नए केंद्रशासित प्रदेश में बकरीद की कुर्बानी के लिए भी सरकार की ओर से खास इंतजाम किए जा रहे हैं।

लौट रही है जन्नत की फिजा- बकरीद की खरीदारी के लिए बाजारों में भारी भीड़ का दिखना यह जाहिर करता है कि लोग नए माहौल में जश्न में एक नया जोश भरना चाहते हैं। इस वर्ष बकरीद की यह रौनक बता जा रही है कि जम्मू-कश्मीर के लोग नई हवा में सांस लेने को किस कदर बेकरार थे। यह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का ही नेतृत्व है, जिसके मजबूत और ऐतिहासिक निर्णय की बदौलत कश्मीर में जन्नत की फिजा लौट रही है।

कोने-कोने में फहराएगा तिरंगा- बकरीद के साथ ही अगले 15 अगस्त तक यहां भी हर तरफ त्योहारी रंग चढ़ा रहेगा, जिसके बाद उम्मीद की जा रही है कि पूरा क्षेत्र एक व्यवस्थित दिनचर्या की ओर बढ़ने लगेगा। वहीं नवगठित केंद्रशासित प्रदेश के हर हिस्से में 15 अगस्त को देश के स्वतंत्रता दिवस के मौके पर तिरंगा फहराने की बेताबी भी देखी जा रही है। सच ये है कि अनुच्छेद 370 हटने के बाद जम्मू-कश्मीर के लोग पहली बार खुद को गुलामी से मुक्त महसूस कर रहे हैं।   

Leave a Reply