Home विचार अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले में गर्दन फंसी तो शोर मचाने लगे ‘चोर’!

अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले में गर्दन फंसी तो शोर मचाने लगे ‘चोर’!

1006
SHARE

19 सितंबर को दुबई की अदालत ने आदेश दिया कि अगस्ता वेस्टलैंड चॉपर डील के बिचौलिये मिशेल को भारत को सौंपा जाएगा। इसके बाद से ही राहुल गांधी ने पीएम मोदी के लिए अमर्यादित भाषा का इस्तेमाल शुरू कर दिया। प्रधानमंत्री को ‘चोर’ कहने के पीछे की असल वजह भी यहीं से सामने आती है। आपको बता दें कि 36 हजार करोड़ के अगस्ता वेस्टलैंड चॉपर डील में ‘सोनिया गांधी एंड फैमिली’ समेत कई कांग्रेस नेताओं पर करोड़ों का घूस लेने का आरोप है। जाहिर है खुद को फंसता देख ये लोग ‘चोर बोले जोर से’ की तर्ज पर शोर मचाने लगे हैं। इसे शोर से अधिक आप वह ‘चीख’ भी कह सकते हैं जो इस घोटाले में गर्दन फंसने के साथ निकल रही है।

आपको बता दें कि ये वही क्रिश्चियन मिशेल है जो मिराज विमान डील के समय भारत में डसॉल्ट कंपनी का पहला एजेंट था। इसी मिशेल पर अगस्ता वेस्टलैंड हेलिकॉप्टर घोटाला मामले में करोड़ों रुपये की कमीशन खाने का आरोप है। ईडी ने जून 2016 में मिशेल के खिलाफ दायर अपने आरोप-पत्र में आरोप लगाया था कि उसने अगस्ता वेस्टलैंड से करीब 225 करोड़ रुपये प्राप्त किए। ईडी ने कहा था कि यह पैसा और कुछ नहीं, बल्कि कंपनी द्वारा 12 हेलीकॉप्टरों के समझौते को अपने पक्ष में कराने के लिए वास्तविक लेन-देन के “नाम पर” दी गई “रिश्वत’’थी। सीबीआई और ईडी द्वारा जांच किए जा रहे मामलों में गुइदो हाश्के और कार्लो गेरोसा के अलावा मिशेल तीसरा बिचौलिया है।

आपको बता दें कि मोदी सरकार की कूटनीति के कारण 17 जुलाई को दुबई में गिरफ्तार क्रिश्चियन मिशेल के कारण सोनिया गांधी से लेकर पूरी कांग्रेस हिली हुई है। यही कारण है कि मोदी सरकार को गिराने के लिए अविश्वास का दांव खेला गया।

यह ऐसा घोटला है, जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ सोनिया गांधी और उसके राजनीतिक सचिव अहमद पटेल पर सीधा आरोप है और इनका नाम इटली की उच्च न्यायालय में सामने आ चुका है। यही नहीं, इसमें दिल्ली की लुटियन मीडिया और बड़े-बड़े संपादक भी फंस रहे हैं, जिन्हें करीब 45 करोड़ की रिश्वत खिलाई गई है।

2014 में मोदी सरकार के आने के बाद ही इस पर कार्रवाई शुरु हुई थी और इसका मुख्य दलाल मिशेल जुलाई में ही दुबई में पकड़ा गया है। दुबई में जब उसे पकड़ा गया तो सीबीआई के अधिकारी वहां मौजूद थे और उन्होंने भी उससे पूछताछ की थी। जल्दी ही क्रिश्चियन मिशेल के भारत लाए जाने की उम्मीद है। यही वजह है कि सोनिया गांधी और पूरी कांग्रेस डरी हुई है और उसकी ‘चीख’ निकल रही है।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY