पार्टी नेतृत्व करने में राहुल विफल : रीता बहुगुणा जोशी

1756
SHARE

भाजपा में शामिल होते ही साधा कांग्रेस के युवराज पर निशाना

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव से ठीक पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है। वरिष्ठ कांग्रेस नेता व पूर्व यूपी कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो गई। इस मौके पर अमित शाह मौजूद थे। रीता बहुगुणा शीला दीक्षित को मुख्यमंत्री पद के लिए उम्मीदवार घोषित करने से पार्टी नेतृत्व से नाराज चल रही थीं। भाजपा में शामिल होते ही उन्होंने विधायक पद से त्यागपत्र देने का भी ऐलान कर दिया। वह वर्तमान में लखनऊ कैंट से विधायक हैं। उन्होंने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर निशाना साधा और कहा कि वे पार्टी का नेतृत्व करने में विफल रहे।

news-15

रीता ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में आस्था जताते हुए सर्जिकल स्ट्राइक का समर्थन किया। गौरतलब है कि रीता बहुगुणा जोशी के भाई व उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा भी कुछ माह पहले भाजपा में शामिल हो गए थे।

भाजपा में शामिल होने से कुछ दिन पहले ही रीता बहुगुणा जोशी ने सोशल मीडिया पर राहुल गांधी के उस बयान पर आपत्ति जतायी थी जिसमें राहुल ने नरेंद्र मोदी पर शहीदों की खून की दलाली का आरोप लगाया था। रीता ने तब ट्विटर पर कहा था कि हमें शहीदों का सम्मान करना चाहिए।

रीता बहुगुणा के भाजपा में आने से ब्राह्मण वोटों का भाजपा को लाभ होने की उम्मीद है।

 

LEAVE A REPLY